Hindi Urdu

NEWS FLASH

राहुल गांधी की सभा में उमड़ा जनसैलाब आखिर किस के लिए खतरे का संकेत हैं? क्या रोगी मीडिया इसे दिखायेगा

राहुल गांधी की सभा में उमड़ा जनसैलाब आखिर किस के लिए खतरे का संकेत हैं? क्या रोगी मीडिया इसे दिखायेगा

By: वतन समाचार डेस्क
  • राहुल गांधी की सभा में उमड़ा जनसैलाब आखिर किस के लिए खतरे का संकेत हैं? क्या रोगी मीडिया इसे दिखायेगा 

  • राहुल गांधी का असम टच असम में बीजेपी के लिए खतरे की घंटी?

 

 राहुल गांधी ने विशाल जनसभा को संबोधित करते हुए कहा कि जितेन्द्र सिंह जी, प्रद्युत बोरदोलोई जी, दीप गोगोई जी, हमारी कैंडिडेट, रूपज्योति कुर्मी जी, भास्कर ज्योति बरुआ जी, स्टेज पर कांग्रेस के वरिष्ठ नेता, भाइयों और बहनों, प्रेस के हमारे मित्रों, आप सबका यहाँ बहुत-बहुत स्वागत, नमस्कार।

 

देश की हालत आपको दिख रही है। आपसे कुछ छुपा नहीं है। कुछ साल पहले नरेन्द्र मोदी जी ने 8 बजे रात नोटबंदी की। 500 रुपए- 1000 रुपए का नोट रद्द किया। आपसे कहा था - काले धन के खिलाफ लड़ाई लड़ रहे हैं। आपके घरों से, आपकी जेब से आपका पैसा लिया और हिंदुस्तान के सबसे बड़े दो-तीन उद्योगपतियों को दिया। उसके बाद नरेन्द्र मोदी ने जीएसटी लागू की, कहा, सबको फायदा होगा। एक टैक्स होगा, सरल टैक्स होगा। जीएसटी लागू हुई, पता लगा 5 अलग-अलग टैक्स, 28 प्रतिशत टैक्स। वो जो करना चाहते हैं, वो सीधे तरीके से नहीं बताते। उनको सिर्फ यहाँ आना था और कहना था - मैं प्लाईवुड की इंडस्ट्री को खत्म करना चाहता हूं, मैं प्लाईवुड की इंडस्ट्री को मारना चाहता हूं, नष्ट करना चाहता हूँ, ये कह देते, क्योंकि जीएसटी ने और नोटबंदी ने यही किया। कालेधन को कुछ नहीं हुआ, मगर जो आपकी प्लाईवुड़ इंडस्ट्री है, वो बंद हो गई और ऐसी देश में हजारों उद्योग एक के बाद एक, एक के बाद एक बंद हो गए। क्यों, क्योंकि नरेन्द्र मोदी हिंदुस्तान के दो-तीन सबसे बड़े, सबसे अमीर उद्योगपतियों का काम करते हैं।